Level-3_Lecture-10

पाठ [लेख] | Writing.

Lines in Hindi

मामी सुन्दर वस्त्र  आभूषण धारण करती है | 

में भी आभूषण धारण करूँगा |  

क्या तू आभूषण धारण नहीं करेगी?

तुम पुष्पमाला धारण करोगे?

नहीं, हम तो केवल स्वर्ण के अलंकार धारण करेंगे. 

वह राम के मन्दिरमे अयोध्याकी कथा कहता है | 

शिक्षक विद्यालयमे कथाएं कहेंगे |  

यदि शिक्षक न कहेंगे तो में कहूंगा | 

क्या तुझे ईश्वर की कथा में आनंद नहीं आता?

मुझे कथा में तो बहुत आनंद आता है | 

वह वहा कपडे नहीं धोएगा | 

मई प्रतिदिन वस्त्र धोता हूँ| 

रमेश प्रतिदिन वस्त्र नहीं धोता| 

वह मस्तक को कैसे पानी से धोता है?

राजा प्रजा का पालन करता है| 

दादी प्रजा को पालती है| 

पिता पुत्र का पालन करता है| 

में उसका पालन नहीं करूंगा | 

क्या तुम खेती के लिए बैल का पालन करोगे?


Translation in in Sanskrit

मामी सुन्दरं वस्त्राणि भूषणानि च धारयति।

अहं भूषणानि अपि धारयिष्यामि।

किं त्वं आभूषणं न धारयिष्यसि ?

माला धारयिष्यसि वा ?

न, वयं केवलं सुवर्णभूषणं धारयिष्यामः।

सः रामस्य मन्दिरे अयोध्यायाः कथां कथयति।

विद्यालये शिक्षकाः कथाः कथयिष्यन्ति।

यदि गुरुः न वदति तर्हि अहं वक्ष्यामि।

किं त्वं ईश्वरस्य कथां न रमसि ?

अहं कथायां बहु आनन्दं प्राप्नोमि।

तडागे वस्त्राणि प्रक्षालिष्यसि वा ?

अहं प्रतिदिनं वस्त्राणि प्रक्षालयामि।

रमेशः प्रतिदिनं वस्त्राणि न प्रक्षालति।

कथं जलेन शिरः प्रक्षालति ?

राजा प्रजानां पालनं करोति।

पितामही विषयाणां पालनं करोति।

पिता पुत्रस्य पालनं करोति।

कृषिकार्यार्थं वृषभान् अनुसरिष्यसि वा ?


@PMOIndia
#CelebratingSanskrit
#MannKiBaat